About Us


Dr. Vinod Kumar Pandey

महाविद्यालय के संस्थापक- प्रबंधक स्व० पं० सुखपाल पाण्डेय जी के सपनों के अनरूप यह महाविद्यालय शिक्षा- सेवा के पथ पर सफलतापूर्वक अग्रसर है । वर्तमान समय में स्तरीय पठन-पाठन ,चुस्त अनुशासन व्यवस्था, उत्कृष्ट शोध कार्य, उत्तम परीक्षाफल तथा बहुमुखी व्यक्तित्वं-विकास आचार्य नरेन्द्र देव स्नातकोत्तर महाविद्यालय की पहचान बन चुके है । विश्वविद्यालय अनुदान आयोग ,प्रबंध तंत्र तथा महाविद्यालय परिवार से निरंतर प्राप्त होने वाला सहयोग मेरा संबल रहा है । मेरा पूरा प्रयास है कि महाविद्यालय की वर्तमान छवि में उत्तरोत्तर श्रीवृद्धि होती रहे ।

      गोण्डा एवं बस्ती जनपदों की सीमा पर स्थित बभनान कस्बे में इस महाविद्यालय की स्थापना प्रसिद्ध समाजवादी चिन्तक तथा शिक्षाविद्‌ आचार्य नरेन्द्र देव की पुण्य स्मृति में उनके निष्ठावान अनुयायी तत्कालीन विधायक स्व० सुखपाल पाण्डेय ने सन्‌ १९७३ में की। महाविद्यालय की स्थापना का उद्‌देश्य इस पिछडे क्षेत्र के साधनहीन युवकों में शिक्षा के प्रति जागरूकता, आत्मविश्वास एवं व्यक्त्वि विकास जैसे गुणों के संवर्धन से उन्हें सक्षम नागरिक बनाना है। इस क्षेत्र में उच्च शिक्षा की समस्या का सम्यक्‌ समाधान उपस्थित कर स्व० पाण्डेय जी ने एक स्पृहणीय आदर्श स्थापित किया। स्व० पाण्डेय जी के सपनों के अनुरूप यह महाविद्यालय सम्प्रति, शिक्षण की गुणवत्ता ,अनुशासन-प्रियता, परीक्षा की शुचिता ,उत्तम परीक्षाफल, स्वस्थ सह-शिक्षा व्यवस्था एव विद्यार्थियों के प्रति संवेदनशीलता और व्यक्तित्व-विकास के लिए प्रसिद्ध है।

 
© 2012 | Designed by   WebPro Technologies